Corona Virus : Let’s pacify this

WHO guidelines (हिंदी अनुवाद)
अगर आपके घर में कोई कोरोना मरीज हैं तो-
आप सभी जो एक ही छत के नीचे रहते हैं, उनको कोरोना संक्रमित ही माना जाएगा चाहे टेस्ट कुछ भी कहे। (बशर्तें कि आप किसी पचास कमरे वाले राजमहल में दूर-दूर रहते हों।)
लेकिन, यह घबराने की बात नहीं। फिलहाल ‘सिर्फ एक’ व्यक्ति को ‘केयरगिवर’ नियुक्त करना होगा। वह लक्षण-मुक्त और सबसे कम उम्र के समर्थ व्यक्ति हों, तो अच्छा है। विकल्प हो तो दूर-दूर से परिजनों को बुला कर घर में अधिक भीड़ न जुटाएँ।

‘केयरगिवर’ और मरीज दोनों जब भी आमने-सामने हों, कम से कम ‘डबल मास्क’ जरूर पहनें। सुविधा हो तो मरीज का कमरा अलग हो, और उसमें खिड़की-रोशनदान हो। उस कमरे का घर के अंदर का दरवाजा यथासंभव बंद रहे, बाहर की खिड़की खुली रहे तो अच्छा। संभव न हो तो कम से कम एक मीटर की दूरी हो, और उनके आस-पास सभी घर के अंदर भी ‘डबल मास्क’ में रहें। अगर केयरगिवर बाहर से आ रहे हों, यानी असंक्रमित हों तो वह एक पीपीई किट पहन कर ही घर में दाखिल हों। वह उसी तरह संक्रमित जनों के संपर्क में आएँ जैसे एक स्वास्थ्यकर्मी आते हैं।

अगला व्यक्ति होगा जो ‘सप्लाई’ करेगा। भोजन-दवाई आदि लाएगा। सबसे अच्छी बात यह होगी, अगर यह घर के बाहर का असंक्रमित व्यक्ति हो जो सामान घर के बाहर छोड़ कर चला जाए। अगर यह संभव न हो तो ‘केयरगिवर’ डबल-मास्क पहन कर बहुत सीमित ही निकलें। ध्यान रहे कि आप कोरोना वाहक हैं, जो दूसरों को संक्रमित कर सकते हैं।

घर के सभी व्यक्ति चाहे लक्षण हों या न हों, एक संक्रमित की तरह ही तापमान और SpO2 नियमित नापते रहें। भले ही शुरुआत में लक्षण किसी के आएँ, गंभीर कोई भी किसी समय हो सकता है।

मरीज के बर्तन, कपड़े, बिस्तर, चद्दर सब अलग हो। जब भी वह छूए जाएँ तो एक दस्ताना पहन लिया जाए, या हाथ धो लिया जाए। यह सभी संक्रामक रोगों की साझा पद्धति है।

लगभग दो हफ्ते और पूर्णतया लक्षण-मुक्त होने तक इसी तरह रहें। सोशल मीडिया से यथासंभव दूरी। फ़िल्म देखना, संगीत सुनना, किताब पढ़ना, जो पसंद आए। चिकित्सक से संपर्क में रहें, अगर सुविधा हो तो टेलीकंसल्टेशन या हेल्पलाइन के माध्यम से। किसी भी लक्षण के गंभीर होते ही अस्पताल हेल्पलाइन से संपर्क करें।

इस आइसोलेशन के बाद घर की साफ-सफाई (सैनिटाइज) कर ली जाए।

(यह जानकारी WHO के केयरगिवर गाइडलाइन पर भी उपलब्ध है) : Dr Praveen Kumar (Netherland)

Note: Above suggestions received from good friends. May be useful. Follow with taking suggestions from your own sources/Doctors.

आरोग्य भारती (काशी प्रांत) ke madhyam se:

    Tele conconsultancy

Timing Morning-10:00am to 12 O’clock
Timing Evening- 6:00pm to 8:00pm

ALLOPATHY
Dr. Indraneel Basu, MBBS, MD-9889193210
Dr. Preeti Gupta, MBBS, DGO-9453040620
Dr. Atulya Ratan, MBBS, MD-9005753660
Dr. Priti Wadhwa Aggarwal, MBBS, MS-9455313377
DR. Deepak Kumar, MBBS, MS 9889545554
Dr. Anita Chaudhary, MBBS DGO-9415202105
Dr. SK Tiwary MBBS, DCH 9889155395
DR Amit Jain, BDS
9415623364

             HOMEOPATHY

Dr. Manish Tripathi, BHMS, MD-7007831706
Dr. Sandeep Shrivastava BHMS, MD 9616320979
Dr. Vipul Narayan Singh, BHMS-9026288538
Dr. Arpita Chatterjee, BHMS -9919427041
Dr. Monika Kumari, BHMS 7705973491
Dr. Rudreshwar Tripathi, BHMS-7390002662
Dr. Arun Kumar Shrivastav, BHMS-9335411157
Dr Vinod Kumar Sharma, BHMS- 94500611646

          AYURVEDA

DR Anjana Saxena, BAMS, MD, 9839041045
Dr Avaneesh Bhusan Pandey BAMS,MD, 9452674777
Dr. Dhruv Agrahari, BAMS-9415294325
Dr. GS Dubey, BAMS-9415457312
Dr Sita Ram Singh, BAMS, 9555441732
Dr Om Yati Harsh, BAMS, 6307950255

Delhi Gov. Covid Dashboard

https://coronabeds.jantasamvad.org/

ek swayam sewak aisa bhi

Some positive news:
A 65-year-old retired private company employee, Mohan Kulkarni, used up his entire pension savings fund of ₹ 4 lakh and took an additional loan of ₹ 2.5 Lakh to buy and donate a ventilator worth ₹ 6.5 Lakh to a civic hospital in Ambernath.

Read more at:
http://timesofindia.indiatimes.com/articleshow/82317765.cms?utm_source=contentofinterest&utm_medium=text&utm_campaign=cppst

गर्म पानी पीना है, गर्म खाना, खाना है ।
कोरोना को हराना है ।
गर्म से कपड़े धोने है, गर्म से नहाना है ।
कोरोना को हराना है ।
मीठा नहीं खाना है, खट्टा ही खाना है !
कोरोना को हराना है ।
ए सी को बंद करना है, पंखा ही चलाना है !
कोरोना को हराना है ।
डाइटिंग को छोड़ना है, पेट भरकर खाना है ।
कोरोना को हराना है ।
आलस को त्यागना है, योग को अपनाना है ।
कोरोना को हराना है ।
ना किसी के यहां जाना है, ना किसी को बुलाना है ।
कोरोना को हराना है ।
पूरा कपड़ा पहनना है, मास्क नहीं हटाना है ।
कोरोना को हराना है ।
रोजी रोटी के लिए जाना है, घर आकर नहाना है !
कोरोना को हराना है ।
दर्द नहीं दिखाना है, हर पल मुस्कुराना है !
कोरोना को हराना है ।
गत को नहीं जताना है, आगत को बताना है !
कोरोना को हराना है ।
अफवाहों को हटाना है, सिर्फ सच बताना है !
कोरोना को हराना है ।

✌️✌️✌️✌️✌️✌️✌️✌️✌️
जीत जाएँगे हम

Some Q&A, please see below link.

https://www.who.int/news-room/q-a-detail/coronavirus-disease-covid-19-ventilation-and-air-conditioning

One comment

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s